News Uncategorized

पहले सफर के बाद ही तेजस एक्सप्रेस में हुई चोरी, हेडफोन साथ लेकर भागे यात्री

Written by admin

सोमवार को मुंबई से गोवा के बीच चली सुपरफास्ट एक्सप्रेस तेजस में चोरी हो गई है। तेजस के यात्री आराम से सफर तो किए लेकिन ट्रेन में मौजूद हेडफोन भी अपने साथ लेकर चलते बने। इसे देखकर यात्री बेहद अचम्भित हैं।

हेडफोन चोरी की जानकारी तब मिली जब बुधवार को ट्रेन में बैठे यात्रियों ने शिकायत की, कि उन्हें एलईडी स्क्रीन पर प्रोग्राम देखने के लिए हेडफोन नहीं मिल रहे हैं। जानकारी के बाद पता चला कि ट्रेन से कई यात्री अपने साथ हेडफोन ले गए। हालांकि रेलवे के अधिकारियों का कहना है कि हालिया खबरों के बाद भी यात्री उन सामानों को वापस लौटाने की जरूरत नहीं समझे।

 

सोमवार के सफर के बाद ‘कम से कम एक दर्जन’ हेडफोन नहीं मिले। उन्होंने बताया कि बहुत सारी एलईडी स्क्रीन्स पर स्क्रैच नजर आए। अधिकारी ने बताया, ‘सफर की शुरुआत में ही हेडफोन बांटे गए थे। उन्हें वापस करने का ऐलान नहीं किया गया था क्योंकि हमें उम्मीद थी कि यात्री इसे नहीं ले जाएंगे। ठीक उसी तरह से जैसे वे अपने साथ तकिया या कंबल नहीं ले जाते।’ हालांकि जब एक हेडफोन की कीमत के बारे में पूछा गया तो अफसर ने बताया कि वे ज्यादा महंगे नहीं थे।

इससे पहले भी तेजस एक्सप्रेस के शीशों को नुकसान पहुंचाया जा चुका है। उस वक्त ट्रेन दिल्ली से मुंबई के लिए रवाना हुई थी। सेंट्रल रेलवे के अफसरों ने तेजस की तारीफ करते हुए इसे ‘पटरियों पर प्लेन’ का नाम दिया है। उन्होंने ट्रेन में दी जाने वाली एक एक वर्ल्ड क्लास सुविधाओं मसलन-सीट्स से लगी एलईडी स्क्रीन्स, वाईफाई, सीसीटीवी कैमरे, चाय और कॉफी की मशीनें आदि के बारे में लोगों को बताया।

बता दें कि तेजस एक्सप्रेस 200 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलती है।  ये ट्रेन मुंबई से गोवा केवल 9 घंटे में पहुंचाती है। इस ट्रेन का सबसे सस्ता टिकट 1185 रुपए है। वहीं, सबसे महंगा टिकट 2740 रुपए का है।   ….

 

Loading...

About the author

admin

Leave a Comment