National News

देखिये भाजपा नेता फर्जी ACB बनकर अधिकारियों से कैसे करवाता था ये काम

Written by Aadil Hussien

जयपुर। राजस्थान के पूर्व मंत्री और भाजपा के वरिष्ठ नेता राधेश्याम गंगानगर का पोता फर्जी एसीबी (राजस्थान भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो) बनकर अधिकारियों से चौथ वसूली करते धर दबोचा गया। आरोपी का नाम साहिल राजपाल बताया जा रहा है। साहिल को जयपुर के जालुपुरा थाना क्षेत्र से गिरफ्तार किया गया है। गिरफ्तारी बीजेपी विधायक मोहनलाल गुप्ता के आवास से की गई है।

ब्यूरो के पुलिस महानिरीक्षक सचिन मित्तल ने बताया कि गिरफ्तार आरोपी साहिल राजपाल राजस्थान के पूर्व मंत्री राधेश्याम गंगानगर का पोता है। उन्होंने बताया कि आरोपी ने जन स्वास्थ्य अभियांत्रिकी विभाग के एक अभियंता से भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो का अधिकारी बनकर दस लाख रूपये की चौथ वसूली की मांग की थी। अभियंता की शिकायत पर ब्यूरो की टीम ने आरोपी पर निगरानी रखनी शुरू की थी।

पुलिस महानिरीक्षक ने बताया कि आरोपी इंटरनेट के जरिये वीडियो कॉलिंग कर वसूली की कार्रवाई को अंजाम देता था। आरोपी ने इससे पूर्व भी जयपुर विकास प्राधिकरण के कई बड़े अधिकारियों से भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो का अधिकारी बनकर चौथ वसूली की है। उन्होंने बताया कि आरोपी ने भी ऐसे प्रकरणों में लिप्त होने की बात स्वीकार की है। ब्यूरो ने मामला दर्ज कर छानबीन शुरू कर दी है।

देश में मोदी सरकार बनने के बाद मुसलमानों को भाजपा नेताओं और भगवा गुंडों द्वारा गद्दार कहकर देश से भगाने की बात कही जाती है। जबकि पिछले कुछ महीनों में भाजपा नेताओं द्वारा ही देश से गद्दारी के कई मामले सामने आए हैं। फिर चाहे वह मध्य प्रदेश से पकड़ा गया ISI का एजेंट ध्रुव सक्सेना और उसके 11 साथी हों या फिर नोटबंदी के बाद सबसे ज्यादा भाजपाईयों के कालेधन पकड़ने की बात हो।

कुछ दिनों पहले हरियाणा भाजपा अध्यक्ष सुभाष बराला का बेटा लड़की छेड़ते पकड़ा गया। इसके पहले बस में बीजेपी नेता का सेक्स वीडियो भी वायरल हुआ था। यही नहीं भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता संबित पात्रा ने फर्जी फोटो शेयर कर पश्चिम बंगाल में दंगा भड़काने की भी कोशिश की थी।

Loading...

About the author

Aadil Hussien

Leave a Comment