National News

शर्मनाक: आखिर कब योगीराज में खत्म होगा भगवा आतंक

Written by Kumar

बेटी बचाओ की बात करने वाली यूपी की बीजेपी सरकार पर महिला अपराध की बढ़ती संख्या की वजह से सवाल उठ रहे हैं. दो दिन पहले बलिया में एक छात्रा की बीच सड़क पर मनचलों ने नृशंस हत्या कर दी। अब बरेली में दो मुस्लिमों बहनों को जिंदा जलाने की कोशिश हुई है। दोनों बहनों की उम्र 17 और 18 साल है।  जिन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया है। दोनों बहनों की नाजुक हालत देख उन्हे लखनऊ रेफर करने की तैयारी की जा रही है।

बरेली का गांव देवरनिया जागीर में दो बहनों को जिंदा जलाने की कोशिश की गुरुवार देर रात को हुई। लेकिन अब पीड़ित लड़की ने बयान दिया है कि एक लड़का उसे बीते एक साल से परेशान कर रहा था। पड़ोसी गांव नगरिया का रहने वाला ये लड़का स्कूल जाते वक्त पीड़ित लड़की को छेड़ता था। हालांकि लड़की के बयान से ये साफ नहीं हो रहा कि उस मनचले लड़के ने ही इन्हें जलाने की कोशिश की।

आपको बता दें कि गुरुवार को ये दिल दहला देने वाली ये वारदात सामने आई।परिवार के मुताबिक रात करीब दो बजे कुछ अज्ञात लोग घर में घुसे और दोनों बहनों पर पेट्रोल डालकर आग लगा दी और मौके से फरार हो गए। दोनों बहनों ने शोर मचाया तो परिवार के लोग इकट्ठा हुए और आनन-फानन में आग बुझाई।

बरेली की ये वारदात तब हुई जब तीन दिन पहले यूपी के ही बलिया में एक छात्रा रागिनी की बीच सड़क पर चाकू से गोदकर हत्या कर दी गई।वारदात को अंजाम उन मनचलों ने दिया जो स्कूल जाते वक्त रागिनी को परेशान करते थे। अब सवाल ये है कि क्या बलिया की तरह बरेली में भी लड़कियों को जलाने की वारदात के पीछे मनचले ही हैं या फिर कोई और साजिश है। और बड़ा सवाल ये भी कि क्या योगीराज में बेटियां महफूज नहीं हैं।

Loading...

About the author

Kumar

Leave a Comment