National News Political Uncategorized

देखिये कैसे जेल में भी राम रहीम दे रहा है अधिकारियों को धमकी!

Written by Alina Sheikh

एक कहावत है कि रस्सी जल गयी लेकिन ऐठन नही गयी, ये कहावत राम रहीम पर बिलकुल सटीक बैठ रही है. 20 साल की कठोर सजा पाने वाले राम रहीम जेल में अभी अपनी ऐठन और अकड़ से लोगों को डरा रहे हैं.  सूत्रों से पता चला है कि उसने अपनी जिद पूरी करने के लिए मुख्यमंत्री खट्टर का डर दिखाकर कहा कि ‘सस्पेंड करवा दूंगा CM से बोलकर.’ बता दें कि जिस दिन राम रहीम की पेशी थी यानी 25 अगस्त के दिन जब सीबीआई कोर्ट ने राम रहीम को दोषी करार दिया तब उसी दिन उसने कोर्ट में अर्जी दी कि उसकी मुंहबोली बेटी हनीप्रीत को उसके साथ जेल में रहने दिया जाय. इसके पीछे उसने कमर दर्द और माइग्रेन का हवाला दिया और देखरेख के लिए कोर्ट में एप्लीकेशन देकर कहा था कि उसकी देखरेख के लिए उसकी मुंहबोली बेटी को उसके साथ रहने दिया जाय.

हालाँकि जेल के जैसे मैनुअल के हिसाब से राम रहीम के अलावा कोई भी उसके साथ नही सकता लेकिन इसके बाद भी जेल प्रशासन ने हनीप्रीत को करीब 2 घंटे तक वीआईपी रिटायरिंग रूम में राम रहीम के साथ रहने दिया. जब राम रहीम का मन नही भरा तो उसने कहा कि हनीप्रीत को उसके साथ रात में भी रहने दिया जाय. उसकी ये फरमाईश पूरी नही हो सकती थी लेकिन इसके बाद भी उसने जिद करके अपनी बात मनवानी चाही तो अधिकारीयों ने मना कर दिया. अपनी बात ख़ारिज होते देख राम रहीम अपनी पहुँच और रसूख का हवाला देने लगा और अधिकारीयों को धमकाने लगा.

उसने अधिकारीयों को धमकाते हुए कहा कि ‘मेरी बात मान लो नही तो मुख्यमंत्री से बोल के सस्पेंड करवा दूंगा.’   जब अधिकारीयों ने उसकी बात नही मानी तो हनीप्रीत ने हंगामा करना शुरू कर दिया था. आपको बता दें कि सारा मामला उस दिन का है जब राम रहीम को दोषी करार दिया गया था.

Loading...

About the author

Alina Sheikh

Leave a Comment