Economy National News

मोदी सरकार ने लोगों की रसोई में लगाई आग, जानिये क्या किया मोदी ने इस बार

Written by James Edition

रसोई गैस की कीमतों में अब तक की सबसे बड़ी 74 रुपये की वृद्धि करके नरेंद्र मोदी की सरकार ने लोगों का बजट बिगाड़ दिया है. केंद्र सरकार अपना बजट सुधारने के लिए देश के आम लोगों की बजट बिगाड़ने में जुट गया है. अच्छे दिन’ का ख्वाब दिखा कर सत्ता में आयी नरेंद्र मोदी के नेतृत्ववाली भारतीय जनता पार्टी  की सरकार ने लोगों की रसोई में आग लगा दी है.कीमतों में 74 रुपये की वृद्धि के बाद 14.2 किलो के घरेलू गैस सिलिंडर की कीमत अब 642.50 रुपये हो गयी. इस पर 146.03 रुपये की सब्सिडी मिलेगी. उधर, कॉमर्शियल गैस सिलिंडर की कीमतों में भी 114 रुपये का भारी-भरकम इजाफा हुआ है. इस तरह वाणिज्यिक सिलिंडर की नयी कीमत 1163 रुपये हो गयी है.

सरकार ने पिछले दिनों सरकारी पेट्रोलियम कंपनियों से कहा था कि मार्च, 2018 तक 14.2 किलोवाले एलपीजी सिलिंडर पर सब्सिडी खत्म करने के लिए हर महीने 4 रुपये की दर से कीमतें बढ़ाये. रसोई गैस की कीमतों पर सब्सिडी खत्म करने के लिए तेल कंपनियों को हर महीने 2 रुपये प्रति सिलिंडर कीमत बढ़ाने के लिए अधिकृत किया गया था

 

ससे सब्सिडी का बोझ खत्म करने में मदद मिलेगी. इसके बाद कंपनियों को हर महीने प्रति सिलिंडर 4 रुपये कीमत बढ़ाने के आदेश दे दिये गये, जो 1 जून से लागू हो गया.

पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने संसद को बताया था कि सरकार चाहती है कि मार्च, 2018 तक एलपीजी पर सब्सिडी ‘शून्य’ हो जाये. इसलिए कीमतों में इजाफे की कंपनियों को छूट दी गयी है.

Loading...

About the author

James Edition

Leave a Comment