International News

‘ब्लू व्हेल’ गेम की मास्टरमाइंड पकड़ी गयी , घर से मिली ऐसी चीजें कि पुलिस भी हैरान

Written by Nazia

रशियन पुलिस ने एक 17 साल की लड़की को अरेस्ट किया है। पुलिस के मुताबिक, लड़की ब्लू व्हेल ऑनलाइन गेम की मास्टरमाइंड है। ये अपनी धमकियों से और डर पैदा कर लोगों को अपनी जान लेने पर मजबूर कर देती थी। रूसी पुलिस द्वारा एक फुटेज जारी किया गया है, जिसमें एक रेड के दौरान आरोपी लड़की को उसके घर से गिरफ्तार करते हुए देखा जा सकता है। आरोपी लड़की मनोविज्ञान की छात्रा है और उसने अपना गुनाह कबूल कर लिया है। अदालत में हुई पेशी के बाद उसे तीन साल के लिए जेल भेजा गया है।न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक रूस की इंटीरियर मिनिस्ट्री के कर्नल इरिना वॉक ने कहा, “आरोपी लड़की गेम बीच में छोड़ने वालों को जान से मारने की धमकी और उनके परिवार की हत्या करने जैसी धमकियां देकर मासूमों को खुदकुशी करने के लिए इंस्पायर करती थी।”

 

 

पुलिस ने जब लड़की के कमरे की तलाशी ली तो चौंक गई। उसके कमरे से हॉरर बुक्स, डरावनी पेंटिंग, सुसाइड के लिए इंस्पायर करने वाली फोटो, डीवीडी और विवादित नॉवेल मिले हैं।पुलिस ने छापेमारी के दौरान आरोपी लड़की के कमरे की फुटेज भी जारी की है। लड़की के कमरे से रशियन साइकोलॉजी स्टूडेंट फिलिप ब्यूडेइकिन की फोटो और किताबें भी मिलीं।

 

 

बता दें कि फिलिप ब्यूडेइकिन ने ही यह गेम डिजाइन किया था। फिलिप के गेम की वजह से रूस में ही करीब 16 लड़कियां जान दे चुकी हैं। इसके चलते फिलिप को 3 साल की जेल की सजा सुनाई गई है। फिलिप के जेल जाने के बाद भी कई बच्चे इस गेम के शिकार हो रहे थे, जिसकी एडमिन यह 17 साल की लड़की थी।

 

 

21 साल का फिलिप बुदेकिन ब्लू व्हेल नाम के सोशल मीडिया क्रेज का हिस्सा बनने के लिए टीनेजर्स को फंसाता था।इसके बाद गेम में शामिल होने वाले टीनेजर्स का ऐसे ब्रेनवॉश कर दिया जाता था कि गेम के आखिर में वो सुसाइड करने को भी राजी हो जाता था।50 दिनों के गेम में उन्हें हॉरर मूवी देखनी होती थी। दिन में अजीबोगरीब वक्त पर सोकर उठना और खुद को नुकसान पहुंचाना होता था।

 

 

हर टास्क पूरा होने पर प्लेयर को अपने हाथ पर एक कट लगाने के लिए कहा जाता है। आखिर में जो इमेज उभरती है, वो व्हेल मछली की तरह होती है।इस गेम के आखिरी स्टेज से पहुंचने वाली एक लड़की ने बताया कि इस दौरान उसे सुसाइड के भयानक वीडियो देखने को मिले।ब्लू व्हेल गेम में लड़कियों को फंसाने वाला फिलिप, जिसे कुछ महीनों पहले अरेस्ट किया गया था। फिलिप को भी तीन साल की जेल हुई है।इस दौरान जब टीनेजर्स पूरी तरह से उलझन में फंसकर डिप्रेशन में चले जाते हैं, तब उन्हें आखिरी दिन सुसाइड करने को कहा जाता है।फिलिप ने इसी तरह रूस की करीब 16 स्कूल गर्ल्स को इस गेम का हिस्सा बनाया और जान देने पर मजबूर किया। आरोपी बोला ‘समाज की गंदगी साफ कर रहा हूं’

 

 

रेयाजान की रहने वाली 16 साल की दियाना कुज्नेत्सोवा ने 9 मंजिला बिल्डिंग से कूदकर जान दे दी थी। फिलिप इसी मामले में नवंबर से पेंडिंग ट्रायल पर सेंट पीटर्सबर्ग की क्रेस्टी जेल में है और उसने अपना गुनाह भी कबूल लिया है। फिलिप ने अपने शिकार को बायोलॉजिकल वेस्ट बताया और कहा कि इनसे सिर्फ समाज को नुकसान होगा। इन्हें सोसाइटी से साफ करना जरूरी है।

 

 

रूस की 16 साल की वेरोनिका ने भी इसी गेम का शिकार होकर जान दे दी थी। फिलिप ने मरने वाली लड़कियों को लेकर कहा कि उसे लगता है कि सभी यंग गर्ल्स ने खुशी-खुशी अपनी जान दी। आरोपी के मुताबिक, अभी ऐसी 28 लड़कियां और भी हैं, जो अपनी जान देने के लिए तैयार बैठी हैं।

 

 

करसुन की रहने वाली अन्ना मार्च में अपने घर में फांसी के फंदे पर लटकी मिली। फिलिप ने इसे भी प्यार में फंसाकर ब्लू व्हेल गेम का हिस्सा बनाया था। इस गेम में साइन करने के बाद 50 दिनों के अंदर टास्क पूरा करने की चुनौती मिलती थी। इसमें खुद को नुकसान पहुंचाना, अकेले में डरावनी फिल्में देखना और व्हेल का चित्र अपने हाथ पर गोदना जैसी चुनौतियां शामिल हैं।

 

 

15 साल की यूलिया ने अपनी दोस्त वेरोनिका के साथ 14 मंजिला बिल्डिंग से छलांग लगा दी थी। हर टास्क पूरा होने पर प्लेयर को अपने हाथ पर एक कट लगाने के लिए कहा जाता है। आखिर में जो इमेज उभरती है, वो व्हेल मछली की तरह होती है। इस गेम का सबसे खौफनाक और आखिरी टास्क 50वें दिन दिया जाता है, जिसमें खुद को जान से मारने की चुनौती मिलती है।

Loading...

About the author

Nazia

Leave a Comment