National News Political

कांग्रेस सरकार ने किया जनता के लिए ऐसा काम, जो भाजपा कभी नहीं कर पाई

Written by James Edition

उत्‍तर प्रदेश में भले ही योगीराज चल रहा हो लेकिन इसी बीच यहां राजधानी लखनऊ की जनता को कांग्रेस ने एक बड़ा तोहफा दिया। कांग्रेस की ओर से यहां रविवार को पेट्रोल 35 रुपए और डीजल 25 रुपए लीटर में बेचा गया।ईंधन की कीमतों में आग के विरोध का यह तरीका शानदार था। सड़क जाम और हो-हल्ला नहीं था, नतीजे में पब्लिक को कोई दिक्कत नहीं हुई। जैसे लोगों को आधी से भी कम कीमत पर पेट्रोल-डीजल मिलने की खबर मिली तो लपककर विधानसभा के सामने खुले ‘पेट्रोल पंप’ पर पहुंच गए।एक दिवसीय ‘पेट्रोल पंप’ का कांग्रेसियों ने उद्घाटन किया था।

मकसद था क्रूड ऑयल सस्ता होने के बावजूद पेट्रोल-डीजल के दामों में बढ़ोत्तरी का विरोध। विरोध की यह आवाज सियासत के गलियारों में खूब गूंजी और सराही गई।अब अगले चरण में कांग्रेसियों का ‘पेट्रोल पंप’ शहर में दूसरे स्थानों पर अगले सप्ताह खुलेंगे। दावा है कि यह अनूठा विरोध तब तक जारी रहेगा, जब तक सरकार ईंधन नीति को लेकर संजीदा नहीं होगी। कांग्रेस के प्रदेश सचिव शैलेंद्र तिवारी की अगुवाई में राजधानी में पेट्रोल, डीजल बेचा गया।

विधानसभा के सामने सुबह आठ बजे से 11 बजे के बीच ये पेट्रोल आउटलेट चला। शैलेंद्र तिवारी के मुताबिक ये केंद्र सरकार का सांकेतिक विरोध था, जिस तरह से पेट्रोल-डीजल के दाम आसमान छू रहे हैं उसे देखते हुए कांग्रेसियों ने अनोखे ढंग से ये विरोध प्रदर्शन किया। इस दौरान 30 लीटर पेट्रोल और 20 लीटर डीजल बेचा गया। पेट्रोल 35 रुपए और डीजल 25 रुपए लीटर में बेचा गया।

कांग्रेस कार्यकर्ताओं का कहना था कि अगर सरकार पेट्रोल की कीमतें नहीं घटाती है तो अगले सप्ताह दोबारा से वह इस तरह का विरोध प्रदर्शन करेंगे। अगले सप्ताह विकासनगर, गोमती नगर में भी पेट्रोल आउटलेट लगाया जाएगा। यूं तो राजधानी में रविवार को बीजेपी कार्यकर्ताओं ने पीएम मोदी का जन्मदिन धूम धाम से मनाया तो वहीं कांग्रेसियों ने पेट्रो-डीजल के बहाने पीएम मोदी का विरोध किया।

Loading...

About the author

James Edition

Leave a Comment