Video

मुंबई की हाजी अली दरगाह की वो 12 बातें जो आप सबको जरुर जाननी चाहिए

Written by Nazia

मुंबई की हाजी अली की दरगाह दुनिया भर में बहुत पाक पर्यटक स्थल के तौर पर जानी जाती है ! इस दरगाह पर देश दुनिया से लोग मट्ठा टेकने के लिए आते हैं ! अभी हालिया कुछ महीनों पहले इस दरगाह को विवादों में उस समय देखा गया था जब यहाँ महिलाओ के प्रवेश पर मजहबी आधार पर रोक का मामला सामने आया था ! इसके खिलाफ बहुत बवाल भी हुआ था ! इस्लाम के शरिया कानून के मुताबिक कब्रों पर महिलाओ को नहीं जाना चाहिए ! यहाँ 2011 तक महिलाएं जाती थी ! आपको इस दरगाह के बारे में कुछ रोचक जानकारियां हम आपको देते हैं !

ये दरगाह 1431 में सैय्यद पीर हाजी अली शाह बुखारी की याद में तामीर की गयी थी ! ये एक मस्जिद और दरगाह दोनों हैं ! मुबंई के मशहूर वरली बीच के पास एक छोटे से टापू पर ये बनी हुई है ! इस दरगाह पर हिन्दू और म्सुलिम दोनों ही जाते हैं ! ऐसा कहा जाता है कि हाजी अली उज्बेकिस्तान के बुखारा प्रान्त से सारी दुनिया घुमते हुए भारत आये तब ये दरगाह यहाँ तामीर हुई !

 

हाजी अली बहुत संपन्न परिवार से थे और लम्बी यात्राएँ करते थे ! जब वो मक्का यात्रा पर थे तो सारी दौलत दान कर दी थी ! इसी यात्रा में इनका इंतकाल हो गया था ! कहते हैं कि इनका शरीर एक ताबूत में था और बहते हुए मुंबई आगया था और फिर तब जाके यहाँ उनकी दरगाह बनी ! इसके अंदर हाजी अली की दरगाह है जिस पर लाल और हरी चादर चढती है ! मजार के चरों तरफ चांदी के डंडे हैं और फिर मुख्य कक्ष आता है जहाँ अल्लाह के 99 नाम लिखे हुए हैं ! वीडियो में देखो कैसे ख़राब मौसम में भी लोग यहाँ श्रध्दा से जाते हैं –

Loading...

About the author

Nazia

Leave a Comment